Sunday, August 8, 2021

Bottom Means in Hindi and More Useful Tips - बॉटम के हिंदी मीनिंग

हेलो दोस्तों आज हम पढ़ने वाले है हिंदी डिक्शनरी के शब्द बॉटम के हिंदी अर्थ याने मीनिंग के बारे में. Means of Bottom in Hindi की सम्पूर्ण जानकारी के लिए इस पोस्ट को कृपया लास्ट तक एक बार जरुर से रीड करे, तो चलिए स्टार्ट करते है. 

Bottom Means in Hindi and More Useful Tips :

Means of bottom in Hindi -

  •  तलहटी
  •  पैंदा
  •  निचला भाग
  •  सबसे नीचे का भाग
  •  अंत
  •  अधोभाग
  •  मूल कारण
  •  आधार
  •  आसन
  •  निचला तल

फ्रेंड्स अब तक ऊपर बताये बॉटम के संक्षेप मतलवो को रीड तो कर ही लिया होगा अब मेरा आपसे एक सवाल यह है कि क्या आपको ऊपर बताये प्रत्येक अर्थ को पढ़ने के बाद इस वर्ड से सम्बंधित सभी जानकारी अच्छे से समझ आयी या इसमें कुछ कमी है ? तो मेरे खयाल से आपका जवाव एक confusion के रूप में होगा जो सीधे तौर पर बतायेगा कि अभी बहुत सी बातो को जानना वाकी है जिससे कि इन्हें अच्छे से समझकर याद करके समय आने पर यूज़ में लिया जा सके. 

अब मैं यही कहना चाहूँगा कि इतना बड़ा आर्टिकल लिखने का उद्देश्य एक ही है कि आप इसे अच्छी तरह से पढ़कर समझ सके और एक स्टोरी की तरह अपने दिमाग में सेव कर सके और बेहतर तरीके से यूज़ में लिया जा सके. तो चलिए जल्दी से आगे पढ़ते है.



What is Means of Bottom in Hindi and More Tips :


रिलेटेड सभी अर्थो को उदाहरण के साथ जाने -

- निचला भाग, इसके अंतर्गत हम उन सभी चीजो को ले सकते है जैसे कोई भी बड़ी या छोटी वस्तु जिसका नीचले हिस्से होते है जो कि पूरे पात्र को एक आधार के रूप में सपोर्ट करता है. उदाहरण के तौर पर कोई खाली पात्र है. 


जिसका निचला भाग भी और यदि उस पात्र के अन्दर जल या कोई भी वस्तु डाली जाए तो वह उस नीचले भाग के सपोर्ट के चलते पानी या वस्तु उस पात्र के अन्दर ही रुक जाती है यह तभी संभव है जब निचला भाग अच्छी तरह जुड़ा हो खासकर उसी पात्र से मजबूती से जुड़ा रहे.

- मूल कारण, इसको हमारे द्वारा बहुत बार उपयोग में लिया जाता रहता है इस अर्थ को खासकर किसी भी बात या मुद्दे को ख़त्म करने या सुलझाने हेतु उसकी जड़ तक पहुचकर उसके मूल कारण को पता करने के लिए यूज़ किया जाता है. 

आखिर मूल कारण होता क्या है ? चलिए इसको समझते है इसे विस्तार से जाने तो हम पायेंगे कि मूल कारण किसी भी बात या मुद्दे की हकीकत, सच्चाई या उसका आधार भी हो सकता है जिन पर वह बात या चीजे टिकी होती है.

- आधार, यह वर्ड ऊपर बताये मीनिंग से काफी हद तक मेल खाते है लेकिन कुछ चीजे इन्हें अलग भी बनाती है और वे है इनका रिलेशन जो कि इनको अलग - अलग चीजो को डिफाइन करने हेतु उपयोग होता है. अब यदि आधार को देखे तो किसी ना किसी रूप में प्रत्येक चीजो का आधार अवश्य होता है जो कि पुरे सपोर्ट की तरह नीव की भूमिका अदा करते है उदाहरण के तौर पर बड़ी - बड़ी इमारतों के लिए आधार का इस्तेमाल अक्सर करते देखा गया है. 

- तल, इस शब्द को हम समन्दर के तल या फिर किसी ठोस वस्तु के धरातल के रूप में जानते है और ऊपर भी इससे अच्छी तरह बाखिफ होंगे.

इफ़ेक्ट को जानिये -

- नीचला भाग, इसे हमने प्रत्येक छोटी - बड़ी भौतिक वस्तुओ के रूप में यूज़ किया है साथ ही यहाँ इनके अच्छे और बूरे प्रभाव को देख सकते है चलिए ठीक से जाने तो सकारात्मक रूप में तो जिस तरह वह बना है वही ठीक इफ़ेक्ट रहेगा लेकिन यदि निचले भाग को चेंज कर दे जो कि उसके अनुसार फिर नही है तब यह सही परिणाम को उत्पन्न नही करेगा.

- मूल कारण, जैसा कि हम जानते है प्रत्येक बातो का मूल कारण होता ही है इसका नेगेटिव और पॉजिटिव इफ़ेक्ट भी देखा जा सकता है किसी बात या मुद्दे का रिजल्ट दोनों स्थिति को व्यक्त कर सकता है और साथ ही इसका प्रभाव सामाजिक, सोशल तौर पर भी आसानी से देख सकते है.

- आधार, अगर देखे तो कोई भी चीज, कार्य, वस्तु जो चाहे बड़ी हो या छोटी प्रत्येक का अपना एक आधार होता है और वह उसी बेस या प्रकृति पर कार्य भी करती है और अंतत परिणाम वैसे ही प्राप्त होते है. 

इनके उपयोग -

- निचला भाग, छोटी - बड़ी प्रत्येक चीजो के बेस को इसके द्वारा दर्शाते है.
- मूल कारण, बातो के खास पहलू को व्यक्त करने हेतु यूज़ किया जाता है.
- आधार, सभी बड़ी चीजो के मजबूत भाग को इससे दर्शाते है.


फ्रेंड्स मुझे आशा है कि आपको पोस्ट Bottom Means in Hindi के द्वारा उदाहरण के साथ प्रत्येक पहलुओ पर सम्पूर्ण जानकारी वर्ड बॉटम के बारे में पता चली होगी. पोस्ट कैसा लगा ? अपने सुझाव हमे कमेंट के द्वारा जरुर से बताये और लगातार इसी तरह की पोस्ट के लिए हमे फॉलो अवश्य करे. ऊपर सर्च बॉक्स का जरुर से इस्तेमाल करे.

No comments:

Post a Comment